दोस्तों आज हम बात करेगे की KYC क्या है? और KYC कि फुल फोरम क्या होती हैं। दोस्तों ये तो सभी को पता ही है की आजकल डिजिटल तरीके से जीने का जमाना आ गया है और डिजिटल जमाने में हमें पैसे भेजने हो या पैसे मंगवाने हो तो हमे पैसे भेजने वाली एप्स के बारे में तो पता ही है Paytm, Phonepay, Googlepay और भी बहुत एप्स है लेकिन ये तीनों एप्स बहुत ही जयादा काम में लि जाती हैं। KYC क्या हैं – KYC full form in hindi. हिंदी में जाने।


एप्स में भी KYC करवाना क्यों अनिवार्य होता हैं।


इन सभी एप्स को यूज करने के लिए इन पर एकाउंट्स बनाना पड़ता हैं और अगर हम लेन देन करते है तो हमें KYC करवाने की जरूरत पड़ती हैं KYC करवाने के बाद हम इन एप्स का अच्छी तरह से लाभ उठा सकते हैं ।
आपको कभी कभी मन में ख्याल आता होगा की KYC क्या है और इसकी फुल फोरम क्या है KYC की फुल फोरम हम आगे स्टेप से जानते है।
आज हम KYC के बारे में विस्तार से जानेंगे। KYC क्या हैं – KYC full form in hindi. हिंदी में जाने।

KYC क्या है।


आज हम इसमें जानते है की KYC की फुल फोरम क्या है हिंदी में फुल फोरम का क्या मतलब होता है तो चलिए जानते है ।

KYC फुल फोरम हिंदी.
KYC फुल फोरम इंग्लिश


KYC फुल फोरम इंग्लिश – Know your customer.
KYCफुलl फोरम हिंदी – अपने ग्राहक को जानिए।
आप सभी को अब तो पता चल ही गया होगा की KYC की फुल फोरम हिंदी में अपने ग्राहक को जानिए होता है और इंग्लिश में know your customer होता है।


KYC की शुरुआत कब हुई थी।


भारत में KYC की शुरुआत में सबसे पहले Reserve Bank Of India ने 2002 में इसकी शुरुआत की थी इसके बाद धीरे धीरे सभी बैंको ने अपने सभी ग्राहकों के लिए KYC करना अनिवार्य कर दिया था इसके बाद धीरे धीरे KYC का यह सिस्टम बढ़ता ही चला गया और आज के समय में कोई भी एप्स यूज करते है तो पहले उसमे अनिवार्य कर दी गयी है । KYC क्या हैं – KYC full form in hindi. हिंदी में जाने।
KYC करने के बाद ग्राहकों को काफी सुरक्षा मिलती है ताकि ग्राहकों के साथ किसी भी तरह की धोकाधड़ी ना हो और सभी ग्राहक अपने आप को या अपनी पर्सनल जानकारी सुरक्षित हो।


KYC करने के लिए Document.


KYC करने के लिए हमे क्या क्या डोक्युमेंट् चाहिए जिससे हम KYC आसानी से कर सकते हैं।
KYC offline और online दोनों तरह से की जा सकती हैं
KYC इसलिए की जाती हैं साथ में आपके पहचान की पुष्टि की जाती हैं और आपके साथ कभी भी धोकाधड़ी ना हों इसलिए KYC करना अनिवार्य होता हैं।
KYC करवाने के लिए आपको अपना document देने को कहते हैं तो चलिए जानते है की KYC करने के लिए कोनसे document की अवशयकता पड़ती हैं।


KYC करवाने के लिए क्या क्या डॉक्युमेंट चाहिए ।
Driving licence
Passport
Aadhar card
Pan card
Voter ID
Narega card


अब आपके मन मे सवाल होगा की इन सभी document की जरूरत पड़ेगी इन सभी document की जरूरत नही पड़ेगी आपको बताये गए इन सभी document मे से कोई भी एक document देकर अपनी पुष्टि करवा सकते हैं अगर आपके पास इनमे से कोई भी document है to आप आसानी से कही भी KYC करवा सकते हैं। KYC क्या हैं – KYC full form in hindi. हिंदी में जाने।
KYC complete करवाने के लिए आपको address verification करना पड़ता हैं। जो address आपके document मे होता हैं वही address आपको address verification मे देना होता हैं। जिससे आपका KYC पूरी हो जायेगी।

जरूर पढ़ें:- Instagrm Mei Video Reel Per View Kese Badhaye.


KYC के फायदे।

KYC करने पर आपके साथ किसी भी तरह की धोकाधड़ी नही होगी क्योकि KYC करने पर आपके पर्सनल इंफोर्मेशन की सेकुरिटी बढ़ जाती हैं।

अगर आप KYC करवा लेते हैं और आप बैंक की KYC करवाते हैं तो आप mutual fund मे बिना डरे investment कर सकते हैं।

KYC करने पर आपके एकाउंट्स पूरी तरह से सुरक्षित हो जाता है।

KYC करते समय आपकी पहचान की जाती हैं की आपके दवारा दिये गये document की जानकारी सही हैं या नही।

KYC करने पर आपके एकाउंट्स की सुरक्षा बढ़ जाती हैं और आपकी जानकारी सुरक्षित रहती है।
अब आपको पता चल ही गया होगा की KYC करने के क्या क्या फायदे होते हैं।

KYC का मतलब क्या होता हैं।


KYC का मतलब होता हैं अपने ग्राहको को जानिए और इंग्लिश में know your customer होता हैं अगर हम इसी को मराठी भाषा में कहे तो ये कहेगे आपल्या ग्राहकाला ओहखा होता हैं। अगर आप कही भी पहचान की पुष्टि करते हैं तो KYC अनिवार्य होती हैं। KYC क्या हैं – KYC full form in hindi. हिंदी में जाने।

KYC क्यो करवाई जाती हैं।


KYC (केवाईसी) इसलिए करवाई जाती हैं की KYC के जरिये व्यक्ति कि पहचान कर सके। बैंक में खाता खुलवाने पर आपको KYC करवानी जरुरी होती हैं जिससे आप बहुत सी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।


बैंक में KYC का क्या मतलब होता हैं।


अगर आप बैंक में किसी भी तरह का एकाउंट्स खुलवाते हैं तो आपको KYC करवाना जरुरी होता हैं। बैंक एकाउंट्स हो या कोई भी ओंनलाइन पैसे भेजने वाली एप्स हो उनमें KYC करवानी जरुरी होती हैं क्योकि इससे आपके एकाउंट्स की सुरक्षा और आपके document की सुरक्षा बढ़ जाती हैं ।


केवाईसी के लिए क्या क्या डॉक्युमेंट चाहिए?


अपनी KYC को पुरा करवाने के लिए आपके पास pan card, aadhar card, voter ID, passport, driving licence, narega card या जिसको job card भी कहा जाता हैं।
KYC करवाने के लिए क्या सभी डॉक्युमेंट की जरूरत पड़ती हैं?
KYC करवाने के लिए इन सभी डॉक्युमेंट की जरूरत नही पड़ती हैं इनमें से कोई भी एक डॉक्युमेंट अपनी आईडी में लगा सकते हैं।
KYC में इन सभी आईडी या डॉक्युमेंट की जरूरत नही होती फिर ये सभी डॉक्युमेंट क्यो बताये जाते हैं?
KYC में जो सभी आईडी बताई जाती हैं उन सभी आईडी या डॉक्युमेंट में से कोई भी एक डॉक्युमेंट या आईडी की जरूरत होती हैं बताई इसलिए जाती है क्योकि अगर आपके पास इनमे से कोई भी एक दो आईडी नही हैं तो आप उसकी जगह दूसरी आईडी का उपयोग कर सकते हैं।

जरूर पढ़ें:- World Amazing Website हिन्दी में जाने।

निष्कर्ष:- KYC full form in hindi.


दोस्तों आज हमने इस आर्टिकल में जाना की KYC की फुल फॉर्म हिंदी में क्या होती हैं और इंग्लिश में क्या होती हैं
इस पोस्ट के जरिये आपको KYC के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताई गयी है की KYC के क्या फायदे हैं KYC क्यो जरुरी होती हैं KYC के बारे में सभी जानकारी विस्तार से मिली हैं अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे।
ताकि यह आर्टिकल ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचे और वह भी KYC के बारे में पूरी जानकारी का लाभ उठा सकें।

Comment


अगर आपको किसी भी तरह की कोई दिक्कत या KYC के बारे में जानना हो तो नीचे कंमेंट बॉक्स में कंमेंट करके आप पूछ सकते हैं।


Prem Singh

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम प्रेम सिंह है। मैं एक हिन्दी ब्लॉगर हूँ और मुझे इंटरनेट पर नयी नयी जानकारी शेयर करना काफी पसंद है। इसलिए मैं आपके साथ इस ब्लॉग पर इंटरनेट, कंप्यूटर, मोबाइल टिप्स ट्रिक्स और ऑनलाइन पैसे कमाने से जुड़ी जानकारी शेयर करता हूँ। अगर आपको मेरी बताई गयी जानकारी पसंद आती है तो आप मुझे मेरे Social Media Account पर भी मुझे Follow कर सकते है।

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published. Required fields are marked *